मुख्य पृष्ठ

नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति (बैंक), पटना का गठन राजभाषा विभाग, गृह मंत्रालय, भारत सरकार, नई दिल्ली के आदेशानुसार बैंक ऑफ इंडिया, आंचलिक कार्यालय के संयोजन में किया गया था। वर्तमान में सदस्यों की कुल संख्या 22 है। वर्तमान में इसकी अध्यक्षता का दायित्व भारतीय रिज़र्व बैंक को सौंपा गया है तथा श्री देवेश लाल, क्षेत्रीय निदेशक, भारतीय रिज़र्व बैंक, पटना इस समिति के अध्यक्ष हैं। समिति द्वारा अब तक 71 अर्द्ध-वार्षिक एवं एक विशेष बैठक आयोजित की जा चुकी है। समिति द्वारा अपनी राजभाषा पत्रिका “पाटलिपुत्र प्रभा” का भी प्रकाशन किया जाता है। अब तक “पाटलिपुत्र प्रभा” के 19 अंकों का प्रकाशन किया जा चुका है। आगे पढ़िए…

श्री देवेश लाल, क्षेत्रीय निदेशक, भारतीय रिज़र्व बैंक, पटना एवं अध्यक्ष नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति (बैंक), पटना

अध्यक्ष का संदेश

मैंने नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति (बैंक) के पदेन अध्यक्ष का कार्यभार 02 सितंबर 2019 को ग्रहण किया है। मुझे नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति (बैंक), पटना के बारे में यह जानकर अत्यंत खुशी हुई कि यह समिति नगर में राजभाषा हिंदी के प्रगामी प्रयोग की दिशा में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है और समिति को वर्ष 2018-19 के लिए राजभाषा कीर्ति पुरस्कार प्राप्त हुआ है। यह सम्मान हमें एक नई जिम्मेदारी का अहसास कराता है कि हम निरंतर बेहतर कार्यनिष्पादन करते रहें।

समिति सभी सदस्य बैंकों में राजभाषा हिंदी के प्रगामी प्रयोग को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है और इस दिशा में उल्लेखनीय कार्य कर रही है। राजभाषा हिंदी में काम करना केवल हमारा सांवैधानिक दायित्व ही नहीं है, बल्कि बैंकिंग कारोबार को एक नया विस्तार देने, इसे एक नया क्षितिज प्रदान करने का एक सशक्त माध्यम भी है। इस दृष्टि से नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति… आगे पढ़िए…

राधेश्याम मिश्रा, प्रबंधक (राजभाषा), भारतीय रिज़र्व बैंक, पटना एवं सदस्य सचिव, नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति (बैंक), पटना